Sunday, June 23, 2024
ADVTspot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homecane harvesterकेन हारवेस्टर से किसानों को होगा लाभ

केन हारवेस्टर से किसानों को होगा लाभ

मुजफ्फरनगर में कृषि में बढती तकनीकी एवं गन्ना किसानों को समय पर लेबर उपलब्ध न होने तथा समयान्तर्गत कार्य का पूर्ण न होना आदि समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन समस्याओं को ध्यान में रखते हुए इंडियन पोटाश लि. द्वारा अपनी चीनी मिल इकाई तितावी शुगर काम्पलैक्स तितावी को न्यू होलैण्ड कम्पनी का नवीनतम तकनीकी पर आधारित केन हारवेस्टर मशीन उपलब्ध करायी गयी है। केन हारवेस्टर मशीन का प्रदर्शन चीनी मिल क्षेत्र के ग्राम कांजरहेडी में इकाई प्रमुख  केश कुमार तथा विभागाध्यक्ष (गन्ना) धीरज सिंह के दिशा-निर्देशों में किया गया। केन हारवेस्टर मशीन का फीता इंडियन पोटाश लि. के दिल्ली मुख्यालय से आये मुख्य प्रबन्धक (कृषि विज्ञान) डॉ. यू.एस. तेवतिया जिला गन्ना अधिकारी संजय कुमार सिसौदिया एवं उप गन्ना आयुक्त सहारनपुर  रिक्षेत्र ओम प्रकाश सिंह ने ट्रायल हेतु ग्राम कांजरहेडी हेतु रवाना किया

डा. यू.एस. तेवतिया ने बताया कि केन हारवेस्टर मशीन प्रति घण्टा १०० से १५० कु. गन्ने की कटाई कर सकती है। उक्त मशीन के आ जाने से गन्ना कृषकों को बहुत अधिक लाभ होगें जैसे लेबर, समय की बचत, समयान्तर्गत चीनी मिलों में गन्ना आपूर्ति एवं आर्थिक लाभ भी होगा। गन्ना कृषक उक्त मशीन से काटे गये गन्ने से अगोला भी प्राप्त करके हरे चारे की पूर्ति कर सकते हैं। गन्ना कटाई के समय लेबर उपलब्ध न होने पर गन्ना कृषकों को केन हारवेस्टर मशीन उपलब्ध होने से कम लागत व कम समय में गन्ना कटाई हो सकेगी। इकाई प्रमुख लोकेश कुमार ने बताया कि पश्चिम यू.पी. में सर्वप्रथम इंडियन पोटाश लि. इकाई तितावी शुगर काम्पलैक्स, तितावी ने किसानों की समस्याओं को सर्वोपरि रखते हुए केन हारवेस्टर मशीन मंगाने का कार्य किया है। चीनी मिल परिक्षेत्र के कृषकों को आगामी सत्र २०२४-२५ में कार्यक्रम बनाकर ग्रामवार गन्ना कृषकों को उपलब्ध कराया जायेगा, जिससे कृषकों की अनेकों समस्याओं का निदान किया जा सकेगा। इसके अतिरिक्त गन्ना फसल में ड्रोन के उपयोग हेतु १० ड्रोन दीदी को प्रशिक्षित किया गया जिससे ड्रोन की सहायता से कृषकों के गन्ना खेतों में कीटनाशक का पर्णिय छिड़काव कर गन्ना फसल को रोग मुक्त किया जा सकेगा। इस आयोजन पर चीनी मिल तितावी के मुख्य प्रबन्धक (गन्ना) धर्मवीर सिंह, वरिष्ठ प्रबन्धक (मा.सं. एवं विधि) शशांक श्रीवास्तव, वरिष्ठ प्रबन्धक (गन्ना) अरविन्द कुमार, रोहानाकलां चीनी मिल के विभागाध्यक्ष (गन्ना) यतेन्द्र कुमार, सकौती चीनी मिल के विभागाध्यक्ष (गन्ना) जितेन्द्र कुमार व अन्य स्टॉफ तथा चीनी मिल तितावी, रोहानाकलां तथा सकौती के उन्नतशील कृषक सहित गांव कानजरहेडी के सैकड़ो किसान भी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com