मलेशिया अब भारत से अतिरिक्त चीनी खरीदने की तैयारी में

BY RKHABAR ON JANUARY 25, 2020 Rastriya Khabar

नईदिल्लीः मलेशिया अब भारत से चीनी खरीदने की योजना को अंतिम रुप प्रदान कर रहा है। घोषणा के मुताबिक वह भारत से एक लाख तीस हजार टन चीनी खरीदना चाहता है। पिछले वर्ष भी मलेशिया ने भारत से 88 हजार टन चीनी खरीदा है। कूटनीतिक तौर पर इसे भी भारत के साथ रिश्ते सुधारने की कवायद के तौर पर देखा जा रहा है। याद रहे कि जाकिर नाइक और कश्मीर के मुद्दे पर मलेशिया और भारत के आपसी संबंधों में कटूता आ चुकी है। वहां आंतरिक तौर पर पॉल्म ऑयल के मुद्दे पर सरकार और कंपनियों के बीच ठनी हुई है। वैसे आधिकारिक तौर पर इस प़ॉल्म ऑयल के विवाद की वजह से भारत से चीनी की खरीद को नहीं जोड़ा गया है। याद रहे कि मलेशिया के साथ अपने बिगड़े संबंधों की वजह से भारत ने वहां से पॉल्म ऑयल लेना बंद कर रखा है। इससे वहां के उद्योग परेशान हैं।

ad
Pic Credits: Yahoo Finance

भारत के साथ मलेशिया के संबंध दो मुद्दों पर बिगड़े हैं। भारत से भागे इस्लामी धर्म प्रचारक जाकिर नाइक को शरण देने के मुद्दे पर यह पहली बार बिगड़ा था। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस संबंध में बयान देने के बाद मलेशिया के प्रधानमंत्री ने एलान किया था कि अपनी मुलाकात में भारतीय प्रधानमंत्री ने इस बारे में उनके कोई बात ही नहीं की है। दूसरी तरफ मलेशिया ने उसके प्रत्यर्पण से भी इंकार कर दिया था और यह सार्वजनिक दलील दी थी कि जाकिर नाइक को भारत भेजने पर उसके साथ धार्मिक कारणों से भेद भाव किया जाएगा। इस घटना के बाद कश्मीर से धारा 370 हटाने के मुद्दे पर मलेशिया का बयान फिर से भारत को नागवार गुजारा था। मलेशिया के प्रधानमंत्री द्वारा कश्मीर पर बयान देन के बाद ही भारत ने वहां से तेल खरीदने की प्रक्रिया बीच में ही रोक दी थी। मलेशिया में इससे कई किस्म की परेशानियां उत्पन्न हो चुकी हैं क्योंकि भारत इस तेल का अन्यतम सबसे बड़ा खरीददार है।